Tuesday, October 15, 2019
Home > eBooks
Setubandh: Lakshmanrao Inamdar

सेतुबंध

सेतुबंध ! सदियों पहले एक सेतु बना था। रामायण काल में लड़ाई थी, राम-रावण के बीच, देव एवं आसुरी शक्तियों के बीच। वास्तुकार नल-नील की प्रतिभा, वानर सेना की उत्कृष्ट भक्ति और.... गिलहरी...से...सुग्रीवराज, हर किसीकी सामूहिक भक्ति एवं कर्म शक्ति, ज्ञान, भक्ति, कर्म की त्रिवेणी ने निर्माण किया वह सेतुबंध ! आसुरी शक्ति पराजित

Read More
Kanhaiya Kumar Bail

What Delhi High Court says on JNU Student Kanhaiya Kumar’s Bail?

कन्हैया कुमार को ज़मानत देते हुए कोर्ट की कड़ी व् शर्मिंदा करने वाली टिपण्णी : 1. कन्हैया कुमार के अपराध को अदालत एक संक्रामक रोग या व्याधि मानती है, जो आजकल यूनिवर्सिटीज में कई लोगों को गिरफ्त में ले रहा है 2. ये बीमारी महामारी बनकर फैले उससे पहले इसपर रोक लगाना

Read More
Pandit Deendayal Upadhyaya

Pandit Deendayal Upadhyaya (1916-1968)

दीनदयाल उपाध्याय का बचपन एक सामान्य उत्तर भारतीय निम्न मध्यम वर्गीय सनातनी हिन्दू वातावरण में बीता। ब्रजभूमि के मथुरा जिले के नगला चन्द्रभान ग्राम में दीनदयाल उपाध्याय के प्रपितामह ख्यात ज्यो तिषी पंडित हरिराम उपाध्याय रहा करते थे। श्री झण्डू राम उनके सहोदर अनुज थे। पंडित हरीराम उपाèयाय के तीन

Read More
Dr. Shyama Prasad Mukherjee

Dr. Shyama Prasad Mukherjee

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी संसार में ऐसे कम लोग हैं, जिन्होंने जीवन के केवल 52 साल के अंतिम 14 साल राजनीति में बिताए हों और इसी अल्पावधि में वे महानतम ऊंचाई को छूकर इतिहास में अमर हो गए हों। ऐसे ही थे डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी। उनका जन्म 6 जुलाई 1901

Read More