Friday, December 6, 2019
Home > Poetries & Songs > Shat Naman Madhav Charan Mein

Shat Naman Madhav Charan Mein

Madhav Sadashiv Golwalkar

शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥

आप की पीयुष वाणी शब्द को भी धन्य करती,
आप की आत्मियता थी युगल नयनो से बरसती,
और वह निश्चल हँसी जो गूँज उठती थी गगन में ॥

शत नमन माधव चरण में,
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥
—–

ज्ञान में तो आप ऋषिवर दीखते थे आद्य शंकर,
और भोला भाव शिशु सा खेलता मुख पर निरन्तर,
दीन दुखियों के लिये थी द्रवित करुणाधार मन मे ॥

शत नमन माधव चरण में,
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥
—–

दु:ख सुख निन्दा प्रशंसा आप को सब एक ही थे,
दिव्य गीता ज्ञान से युत आप तो स्थितप्रज्ञ ही थे,
भरत भू… के पुत्र उत्तम आप थे युगपुरुष जन्में॥

शत नमन माधव चरण में,
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥
—–

मेरु गिरि सा मन अडिग था आप ने पाया महात्मन,
त्याग कैसा आप का वह तेज साहस शील पावन,
मात्र दर्शन भस्म कर दे घोर षड रिपु एक क्षण में॥

शत नमन माधव चरण में,
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥
—–

सिन्धु सा गम्भीर मानस थाह कब पाई किसी ने,
आ गया सम्पर्क में जो धन्यता पाई उसी ने,
आप योगेश्वर नये थे छल भरे कुरुक्षेत्र रण में॥

शत नमन माधव चरण में,
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥
शत नमन माधव चरण में, शत नमन माधव चरण में॥

Avatar
sharetoall
Share to all is a platform to share your knowledge and experience.
http://www.sharetoall.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *