Tuesday, October 15, 2019
Home > Culture
You Cannot Divorce

तुम तलाक नहीं ले सकते

रविवार को फुरसत से..... तब मैं जनसत्ता में नौकरी करता था। एक दिन खबर आई कि एक आदमी ने झगड़े के बाद अपनी पत्नी की हत्या कर दी। मैंने खब़र में हेडिंग लगाई कि पति ने अपनी बीवी को मार डाला। खबर छप गई। किसी को आपत्ति नहीं थी। पर शाम को दफ्तर

Read More
Chaitra Shukla Pratipada

Change The Calendar not Your Culture

कलेंडर बदलिए अपनी संस्कृति नही। अपनी संस्कृति की झलक को अवश्य पढ़ें और साझा करें। 1 जनवरी आने से पहले ही सब नववर्ष की बधाई देने लगते हैं। मानो कितना बड़ा पर्व हो। नया केवल एक दिन ही नही, कुछ दिन तो नई अनुभूति होनी ही चाहिए। 1

Read More
Yugon-Yugon Se Behti Aayi...

युगों-युगों से बहती आई हिन्दु संस्कृति धारा…

युगों-युगों से बहती आई हिन्दु संस्कृति धारा, इससे ही एकात्म हुआ है सारा राष्ट्र हमारा !! वेदों की पावन धरती यह, देवों ने अवतार लिये, राम, कृष्ण, गौतम, नानक ने अमृत्सम सुविचार दिए, एक सूत्र में पिरो सभी को ... 2, दिया स्नेह सहारा ! इससे ही एकात्म ..... वनवासी, गिरिवासी वंचित, बन्धु सहोदर हैं अपने, सबको

Read More